नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


बड़े भोले हैं जी हम!

By • Apr 26th, 2008 • Category: रुपहली दुनिया

लोगबाग या तो वाकई भोले हैं या सिर्फ मज़े लेने के लिये पूरी मासूमियत के साथ खबरों पर यकीन कर उसका वाईरल प्रसार किये जाते हैं? क्या उन्हें पता नहीं कि अमिताभ शत्रुध्न विवाद फिलहाल प्रेस में क्यों बोया जा गया या फिर कि अमिताभ अचानक ब्लॉगिंग के मैदान में क्यों उतर पड़े? जी हाँ, अमिताभ की नई फिल्म “भूतनाथ” को प्रचार चाहिये, ब्लॉगअड्डा को भी और शत्रु के पुत्र को भी जिनकी फिल्म जल्द ही लाँच होने जा रही है। और जी हाँ अपनी ही पत्नी और शाहरुख खान के साथ फिल्म “माया मेमसाहब”, जो अपने साहसिक प्रणय दृश्य के कारण ही कुछ चली, बनाने वाले केतन मेहता के PR गुर्गे अब दीपा और शाहरुख के उस दृश्य के इंटरनेट पर आ जाने की खबर को हवा दे रहे हैं। जबकि यह विडियो काफी समय से नेट पर है, खुद मैंने शायद इसे 6 या 8 महीने पहले देखा था, दृश्य फिल्म से ही लिया गया है, यानी जो आप फिल्म में देख चुके हैं उससे कुछ भी ज्यादा इस विडियो में नहीं है, पर हवा उड़ाने में क्या जाता है। केतन मौके का लाभ उठाने से नहीं चूकते। माया मेमसाहब का जो भी नाम हुआ उसकी बदौलत उन्होंने “मायानाम से ही स्पेशल अफेक्ट और एनीमेशन के लिये एक उत्पाद और उस पर प्रशिक्षण के लिये अकादमी बनाई। और इस दृश्य को अब उछालने की वजह? केतन मेहता की नई फिल्म “रंग रसिया” पोस्ट प्रोडक्शन में है। भले इस उम्र में दीपा पर फिर कुछ तंज कसें जायें, फिल्म की लोकप्रियता और संभावित कमाई के सामने पत्नी की इज्जत गौण हो ही जाती है। “जब वी मेट” और “टशन” के समय करीना शाहिद के रिलेशनशिप आफ कंवीनीयंस का पटाक्षेप। कितने ही पब्लीसिटी स्टंट फिल्मी प्लॉट की ही तरह बार बार दुहराये जा रहे हैं और हम हैं कि बने जाते हैं। कितने भोले हैं जी हम!

Tagged as: , , , ,

 

3 टिप्पणीयाँ »

  1. अब जनता इतनी भी क्या भोली होगी 🙂 यह सब जानती है, मगर मजे लेती है.

    सही फरमाया आपने, मगर क्या माया मेमसाब के जो दृश्य युट्युब पर है वे सेंसर नहीं हुए थे? आपने लिखा है “जो आप फिल्म में देख चुके हैं उससे कुछ भी ज्यादा इस विडियो में नहीं है,” मुझे तो लगता है थोड़े ज्यादा होने चाहिए 🙂

  2. Maya 3d animation and rendering sotware made by Ketan Mehta? माफ कीजिये, जानकारी गलत है. Autodesk का है माया. Autodesk, वही जिसका Autocad है. केतन मेहता सिर्फ एनिमेशन की एकेडेमी चलाते हैं.

    Debashish replied: ओह! भूल सुधार कर लिया गया है सिरिल। जानकारी देने का शुक्रिया!

  3. आपको हमारे भोले पन पर शक क्यों है? हमें तो यह मुद्दा ही नहीं मालुम था। 🙂