नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


गरमा गरम पोस्ट

कोउ नृप होउ

हम सोचते हैं कि भ्रष्टाचार की जड़ नेता और राजनीति है इसके उलट दरअसल जड़ हमारे नौकरशाह ही हैं। कर्नाटक में २००८ से २०१३ तक भाजपा सरकार थी और उसके बाद से काँग्रेस। इस सरकारी चोलाबदली से जमीनी हकीकत पर कोई फर्क नहीं पड़ा, सरकारें बदलती हैं पर नौकरशाह तो नहीं बदलते। कोउ नृप होउ।


{2 टिप्पणीयाँ}
पूरा आलेख पढ़ें»


हालिया प्रविष्टियाँ

आलोक और पंकज ने पहले पहल देखा पर गूगल के हिन्दी विज्ञापन अब यूएफओ के दिखने जैसे विरले नहीं रहे, अक्सर दिख जाते हैं आजकल। देसीपंडित पर आज यह विज्ञापन देखा तो पता लगा कि गूगल वाले हिन्दी मसौदे के इश्तेहार स्वीकारने तो लगे हैं पर किसी तरह की कोई परख नहीं होती। हिज्जों की […]

गूगल इंडिया लैब्स पर आज नज़र गई तो देखा कि गूगल खोज में एक नया फीचर मैदान में उतरने वाला है। यह है गूगल सजेस्ट हिन्दी में। गूगल सजेस्ट के बारे में आप जानते ही होंगे, यह खोज करते वक्त टाईप करते ही आपको संभावित खोज शब्द सुझा कर उसे आटो कंप्लीट करने की सुविधा […]

Update: Thanks to Web Archives all lost issues of Nirantar have now been restored and are available at http://www.nirantar.org. मेरी मूर्खता की वजह से निरंतर पत्रिका के अक्षरग्राम पर रखे पुराने अंक पूर्णतः नष्ट हो चुके हैं और हमारे पास पुराने अंकों का कोई भी बैकअप उपलब्ध नहीं है। ये शायद मेरे जीवन का सबसे […]

पुर्नवास का प्रश्न केवल हथियार डाल चुके आतंकवादियों के लिए ही नहीं वरन् समाज के पूर्वाग्रहों के शिकार अनेक वर्गों के परिप्रेक्ष्य में प्रासंगिक है, चाहे वो परित्यक्त या व्यभिचार से पीड़ित महिलाएँ हों, किन्नर, अपंग, सजा भुगत चुके अपराधी हों, या एड्स जैसी कलंकित बीमारियों के पीड़ित। इन्हें मुख्यधारा में शामिल करने, अपने साथ […]

मेरा डिलिशीयस पुरालेखागार रिमाईंडर फीडभुलक्कड़ो के लिये वरदान, अपने रिमाईंडर्स फीड से पायें श्रीमान!टैग: [reminderfeed feed क्षमल फीड] विकीवर्सिटीपढ़ने की मुफ्त सामग्री और स्रोत जुटाने का एक अभिनव प्रयास!टैग: [wikiversity education विकीवर्सिटी]