नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


पसंदीदा पोस्ट

1000वीं चिट्ठा चर्चा पर एक लेटलतीफी पोस्ट

10 नवंबर 2009 को हिन्दी ब्लॉग जगत के सार्वजनिक उपक्रम चिट्ठा चर्चा ने अपनी एक हजारवीं पोस्ट छापी। लेखों के बाढ़ से अपनी रुचि या काम की जानकारी पाने के लिये चिट्ठा चर्चा जैसे मंचों की ज़रूरत हमेशा बनी रहेगी। देखना यह है कि क्या समय के अनुरूप ये अपने को ढाल कर सफलता के नये परचम लहराते हैं या फिर यही कलेवर बनाये रख अपनी लोकप्रियता और उपयोगिता को बरकरार रख पाते हैं।


{11 टिप्पणीयाँ}
पूरा आलेख पढ़ें»

हालिया प्रविष्टियाँ

जुलाई सप्ताह ३ के स्वादिष्ट पुस्तचिन्ह»  Comments Off on जुलाई सप्ताह ३ के स्वादिष्ट पुस्तचिन्ह

मेरा डिलिशीयस पुरालेखागार फ्यूटेफविकिपीडिया की श्रेणीवार खोज करने का औजार। हिन्दी विकिपीडिया खोज लेता तो बढ़िया होता! टैग: [cv futef search+engine wikipedia विकिपीडिया] गूगल एक्सेसिबल सर्चनेत्रहीनों के लिये गूगल का अभिनव प्रयोग जो सहजता से लोड होने वाले पृष्ठों को प्राथमिकता देता है। टैग: [accessible cv google गूगल] ह्यूमनाईज़्ड रीडरब्लॉग एग्रीगेटर जो दिखता है ब्लॉग […]

ज़ी टीवी के सारेगामापा पर प्रतियोगियों और हीमेश रेशमिया जैसे मेंटॉर का क्या कायाकल्प हुआ है कार्यक्रम के दौरान। किसी के बाल भूरे हो गये तो कोई टोपी लगाने लगा। गोविंदा की किसी फिल्म का डॉयलॉग याद आता है जिसमें वे सतीश कौशिक के किरदार को कहते हैं, “आप जब आये थे तो मुगले आज़म […]

अनुगूंज ६: चमत्कार या संयोग?»  Comments Off on अनुगूंज ६: चमत्कार या संयोग?

वैसे तो मैं सर्टिफाईड नास्तिक हूँ पर मेट्रिक्स देखने के बाद से मैं इसकी थ्योरी का कायल भी हो गया। कई दफा जीवन में ऐसा हो जाता है कि इस बात पर यकीन सा होने लगता है कि जीवन मानो कोई कंप्यूटर सिमुलेशन हो। एम.आई.बी के अंतिम हिस्से में मेरे इस विचार से मिलता जुलता […]

क्षेत्रियता और विषय के आधार पर ब्लॉगों के वर्गीकरण तो होते रहते हैं, पहली बार देखा धर्म के नाम पर वर्गीकरण। गॉडब्लॉगकॉन क्रिस्तान ब्लॉगरों का पहला सम्मेलन है जो कथित रूप से इस समुदाय के ब्लॉगरों को एकजुट करेगा। एकजुट ही करना भाया, पृथकता से डर लगता है!

स्पष्टिकरणः यह समूची पोस्ट अप्रेल फूल बनाने के लिये लिखी मजाकिया पोस्ट है, इसमें कही बातें सरासर गप्प हैं और केवल मजे लेने के लिये ही लिखी गई हैं। इंटरनेट सर्विस प्रोवाईडर्स की मनमानी और औनेपौने दामों का आखिरकार जोरदार तोड़ आ ही गया है और वो भी गूगल के द्वारा। गूगल ने आज टीआईएसपी […]

Links of Interest