नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


Archive for July, 2008

भैया बोलके कचरा नई करने का!

By • Jul 4th, 2008 • Category: मनभावन

कई बार चित्र वाकई वो कहानी बयां कर जाते हैं जिसको हजार शब्दों की दरकार नहीं होती. ईमेल फॉर्वर्ड से प्राप्त 🙂



देखिये कौन कर रहा है गूगल अनुवादक का प्रयोग

By • Jul 4th, 2008 • Category: ज़िंदगी आनलाईन

भले मैं और आप और खास तौर पर भाषा शुद्धतावादी फिलहाल गूगल अनुवादक में नई जोड़ी गई हिन्दी अनुवाद की सेवा का फिलहाल प्रयोग न कर रहे हों पर लगता है स्पैमरों ने ज़रूर इसका इस्तेमाल करना शुरु कर दिया है।