नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


Archive for February, 2007

सप्ताह 08 के स्वादिष्ट पुस्तचिन्ह

By • Feb 24th, 2007 • Category: कड़ियाँ

मेरा डिलिशीयस पुरालेखागार देसीडब्बाछोटे और बड़े पर्दे की चटपटी खबरों के साथ साक्षी का नया उपक्रम।टैग: [tv cinema desidabba gossip] चेंजआप क्या बदलना चाहते हैं दुनिया में?टैग: [change.org socialsoftware] इवेंट्स इन इंडियाभारत में हो रहे आयोजनों की समयसूचीटैग: [eventsinindia] मिंटहिंदुस्तान टाईम्स और वॉल स्ट्रीट जर्नल का नया, बेहद युवा अखबारटैग: [livemint mint ht wsj newspaper […]



डोमेन ले लो, डोमेन

By • Feb 20th, 2007 • Category: व्यक्तिगत

हिन्दी में डिग जैसी साईट बनाने के उद्देश्य से मैंने ६ ७ माह पहले दो डोमेन बुक कराये थे। पर योजना पर काम करते करते देर हो गई और मेरा मन इसे पर से उब चला है। मैं ये दोनों डोमेन नाम बेचना चाहता हूं, एक है कड़ीघर डॉट कॉम और दूसरा एक डॉट इन […]



भूसंपत्ति की कीमतें : मुख्यधारा का मीडिया अब चेता

By • Feb 14th, 2007 • Category: ब्लॉगिस्म, ज़िंदगी आनलाईन

अर्थनीति जैसे विषयों में मेरी खास रुचि नहीं रही पर फिर भी इंडियन इकॉनामी ब्लॉग पर नज़र रखता रहा हूँ। गये साल होम लोन लेने के बाद मुझे भूसंपत्ति के बारे में थोड़ी जानकारी बढ़ाने का मौका मिला और लगातार बढ़ती कीमतों और कर्ज़ दरों को लेकर चिंतित भी रहा। इस बीच लोगों से चर्चा […]



अ मिलियन पैंग्विंस

By • Feb 7th, 2007 • Category: ज़िंदगी आनलाईन

कोलैबोरेटिव, विज़्डम आफ क्राउड्स, सोशियल नेटवर्किंग। सब सुने शब्द हैं न? आजकल तो इन्हीं शब्दों का अंतर्जाल पर बोलबाला है और इसमें एक नया अध्याय जुड़ रहा है। मशहूर प्रकाशक पेंग्विन ने इसी भावना से एक विकीनोवल का विचार प्रस्तुत किया है, अ मिलियन पैंग्विंस में जिसमें विकी के द्वारा उपन्यास लिखें जायेंगे। हालांकि ऐसे […]