नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


गलतियों का दौर

By • Sep 7th, 2006 • Category: ज़िंदगी आनलाईन

Google Hindi Advtआलोक और पंकज ने पहले पहल देखा पर गूगल के हिन्दी विज्ञापन अब यूएफओ के दिखने जैसे विरले नहीं रहे, अक्सर दिख जाते हैं आजकल। देसीपंडित पर आज यह विज्ञापन देखा तो पता लगा कि गूगल वाले हिन्दी मसौदे के इश्तेहार स्वीकारने तो लगे हैं पर किसी तरह की कोई परख नहीं होती। हिज्जों की गलतियाँ, पूर्णविराम की जगह पाईप का प्रयोग, गूगल जैसे कंपनी से तो अपेक्षा थी की गुणवत्ता का भी ध्यान रखा जाता। खैर शुरुवाती दौर है इसलिये गलतियाँ माफ कर देना ठीक होगा।

Tagged as: , , , , ,

 

इस पोस्ट पर टिप्पणीयाँ अब स्वीकारी नहीं जा रहीं।