नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


वर्डप्रेस 2.2 अपग्रेड ने किया कचरा

By • Jul 1st, 2007 • Category: बातें तकनीकी, ब्लॉगिस्म

2.2 वर्डप्रेस की महत्वाकांक्षी रीलीज़ है जिसमें इस ब्लॉगवेयर में अनेक सुधार किये गये हैं। हालांकि वर्डप्रेस के हर नये रीलीज़ को तुरंत स्थापित करने की गलती कभी नहीं करनी चाहिये क्योंकि प्रयोक्ता समुदाय की राय जैसे जैसे सामने आती है वे पुनः कई बदलाव करते हैं। ज़ाहिर है प्रयोक्ता समुदाय से बड़ा जाँच दल तो कोई नहीं होता। यही वजह है कि होस्टिंग प्रदाता द्वारा प्रदत्त फैंटास्टिको सेवा भी अपग्रेड थोड़े अंतराल से प्रदान करता है।

हाल ही में मैंने ये अपग्रेड केवल ईंडीब्लॉगीज़ पर किया, फिर व्यस्तता में न जालस्थल की जाँच की न ही दूसरे ब्लॉग अपडेट किये। हाल ही मैंने ध्यान दिया कि ईंडीब्लॉगीज़ के कई चिट्ठों पर कॉमा, डॉट तथा कोट के चिन्ह जंक कैरेक्टर्स में बदल गये थे और हिन्दी तथा अन्य भाषाओं के ट्रैकबैक का मसौदा तो पूर्णतः कचरे में बदल गया था। वर्डप्रेस के सपोर्ट समुदाय में सवाल भेजा पर जवाब मिलने की बजाय और परेशान लोगों की फौज खड़ी हो गई। काफी खोजने पर सवाल का हल मिला। खुशी की बात ये थी कि डेटाबेस में मौजूद सामग्री को कोई नुकसान नहीं पहुंचा था।

Wordpress 2.2.1 Upgrade Issuesअब मुद्दे की बात! अगर आपने अपना स्थापन वर्डप्रेस 2.2 पर अपग्रेड किया है तो आपके भारतीय भाषा में लिखे ब्लॉग का हश्र कुछ यहाँ दिये चित्र जैसा हो जायेगा और अंग्रेज़ी मसौदे का हाल उपरोक्त हो जायेगा। इसका कारण ये है कि वर्डप्रेस ने हाल ही में अपनी कॉन्फिग फाईल में कुछ नई प्रापर्टीज़ जोड़ी है जिनमें से दो आपके डेटाबेस के कैरसेट एंकोडिंग तथा कोलेशन से संबंधित हैं, और ये ही परेशानी के जड़ हैं। सरल शब्दों में कहा जाय तो अपग्रेड के पश्चात आपको wp-config.php फाईल में जाकर निम्नलिखित दो लाईनें कमेंट करनी या हटानी पड़ेंगी।

define('DB_CHARSET', 'utf8');
define('DB_COLLATE', '');

अपग्रेड और सुझाये बदलाव को करने के पूर्व अपने ब्लॉग का बैकअप लेना न भूलें।

Tagged as: ,

 

1 टिप्पणी »

  1. Thank You So Much…. This post really helped me at my wordpress.