नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


ब्लॉग-संसार का लेखाजोखा

By • Feb 7th, 2006 • Category: ब्लॉगिस्म

टेक्नोराती के डेविड सिफ्री ने ब्लॉगसंसार का ताज़ा लेखाजोखा प्रस्तुत किया है। इस रपट से कुछ खास बातें

  • हर साढ़े पाँच महीने ब्लॉगमंडल का आकार हो जाता है दोगुना
  • हर सैकंड होता है षक नये ब्लॉग का जन्म, ९ फीसदी ब्लॉग स्प्लॉग होते हैं।
  • हर घंटे करीब ५०,००० नई ब्लॉग प्रविष्टियाँ की जाती हैं

टेक्नोराती ब्लॉग फाईंडर में टैग द्वारा ब्लॉग खोजे जा सकते हैं। पर हिन्दी टैग से खोज करें तो मिलते हैं महज़ ११ चिट्ठे। इस से यह बात तो साफ है कि हिन्दी ब्लॉगजगत को टेक्नोराती से कोई लाभ नहीं मिल रहा। अगर आप अपने ब्लॉग पर ज्यादा आवागमन चाहते हों तो इस जालस्थल पर रजिस्टर कर अपना ब्लॉग क्लेम करे और फिर यथोचित टैग से अलंकृत कर दें। आपको न केवल अपने ब्लॉग से जुड़ी कई जानकारियाँ मिलती रहेंगी बल्कि ब्लॉगमंडल के रडार पर आपकी उपस्थिति भी दर्ज होगी।

टेक्नोराती से मुझे एक शिकायत है कि जब ब्लॉग स्थानांतरित होते हैं, जैसे कि हालिया डोमेन नाम मिलने के बाद नुक्ताचीनी का हुआ तो आपका सारा टेक्नोराती यश पुराने ब्लॉग पते से चिपका रह जाता है और आप को नई शुरुवात करनी पड़ती है, कितना अच्छा होता कि ये प्रोफाइल से जुड़े ब्लॉग यू.आर.एल बदलने की सुविधा भी देते।

Tagged as: , , , ,

 

2 टिप्पणीयाँ »

  1. इस अमुल्य जानकारी के लिए धन्यवाद.

    वैसे स्प्लॉग क्या होता है?

  2. पंकज: धन्यवाद तो टेक्नोराती का! स्प्लॉग माने “स्पैम ब्लॉग”, अधिक जानकारी यहाँ है