नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


बस मानसिकता सरकारी न हो

By • Jan 19th, 2004 • Category: बातें तकनीकी

बड़ी खुशी होती है जानकर कि जिस जावा का प्रयोग मेरे जैसे प्रोग्रामर वेब व मोबाईल एप्पलीकेशन्शस बनाने के लिए करते हैं वही मंगल ग्रह पर स्पिरिट नामक रोवर को भी दौड़ा रहा है। वैसे सारा श्रेय नासा को ही जाना चाहिये, जैसा की गोसलिंग ने कहा, “नासा में लोग वो कर रहें हैं जो आम आदमी के लिए फंतासी जैसा है, ऐसी सरकारी संस्था का मिलना मुश्किल है जहां लोग अपने सपने सच कर पाते हों”। क्या भारत में कोई सुन रहा है?

Tagged as: , , , , ,

 

इस पोस्ट पर टिप्पणीयाँ अब स्वीकारी नहीं जा रहीं।