नुक्ताचीनी ~ Hindi Blog


सप्ताह का किस्सा

By • Jun 5th, 2005 • Category: किस्से कुर्सी के

चापलूसी की हद

Tagged as:

 

2 टिप्पणीयाँ »

  1. लिखने में कंजूसी की हद!

  2. Woh to isliye Anup bhaiya, ki log kahein hein, “A picture is worth a thousand words”!